वेंचर कैटलिस्ट्स द्वारा समर्थित 54 कंपनियों ने 50 मिलियन डॉलर का वैल्यूएशन पार किया

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 16 नवम्बर  2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, मुंबई। वेंचर कैटलिस्ट्स ग्रुप (Vcats++), भारत के पहले एकीकृत इनक्यूबेटर और शुरुआती से लेकर विकास चरण वाले स्‍टार्टअप्‍स के लिए फुल स्टैक निवेशक, ने घोषणा करते हुए बताया कि इसके पोर्टफोलियो स्टार्टअप्स में से लगभग 54 ने इस साल 50 मिलियन डॉलर से अधिक का वैल्‍यूएशन (मूल्यांकन) हासिल कर लिया है। चुनौतीपूर्ण समय की वजह से इस साल फंडिंग में 70% की गिरावट आई, लेकिन इसके बावजूद वेंचर कैटलिस्ट्स काफी तेजी से बढ़ा और अब यह 33 सूनिकॉर्न्स और 100 से अधिक मिनीकॉर्न्स का घर है। पिछले एक साल में कम से कम दो दर्जन कंपनियों का मूल्यांकन 100 मिलियन डॉलर को पार कर गया है और लगभग तीन स्टार्टअप - शिप्रॉकेट, भारतपे और वेदांतु ने यूनिकॉर्न का दर्जा हासिल किया है।

वेंचर कैटालिस्ट्स ग्रुप या Vcats++ एक अर्ली-टू-ग्रोथ (शुरुआती से लेकर विकास चरण तक) स्टेज फंड है जिसमें शुरुआती स्टेज से लेकर सेक्टर फोकस्ड तक के पांच फंड शामिल हैं। कंपनी ने पहली बार 2020 में अपना 150  मिलियन डॉलर का एक्सीलेरेटर फंड लॉन्च किया था। इसके बाद कंपनी ने चार और फंड्स लॉन्च किए हैं, जिसमें वेंचर कैटालिस्ट्स एंजेल फंड, 200 मिलियन डॉलर का फिनटेक फोकस्ड फंड बीम्स, प्रॉपटेक फंड स्पायर, और 200 मिलियन डॉलर का ग्रोथ स्टेज सेक्टर एग्नोस्टिक फंड इलेव8 शामिल है। समूह के पास 300 से अधिक स्टार्टअप्स का एक संयुक्त पोर्टफोलियो है, जिसका समेकित मूल्यांकन लगभग 10 बिलियन डॉलर आंका गया है, जिससे यह देश का सबसे बड़ा विकास चरण निवेश मंच बन गया है।

वेंचर कैटलिस्ट्स ग्रुप के सह संस्थापक डॉ. अपूर्व रंजन शर्मा ने कहा, “यह मूल्यांकन ऐसे समय में महत्वपूर्ण हो जाता है जब संभावित फंडिंग की कमी की आशंका न केवल भारत में बल्कि दुनिया भर में भी निवेशकों और स्टार्टअप को डरा रही है। यह पोर्टफोलियो कंपनियों के विकास और अप-राउंड के बारे में बात करता है। हमारे अधिकांश पोर्टफोलियो ने पिछले दो वर्षों में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है और हम अगले साल इनमें से कम से कम 3-4 को यूनिकॉर्न  में बदलता हुआ देख रहे हैं। इस कंपनी के तीन संस्थापक हैं, अनिल जैन, अनुज गोलेचा और गौरव जैन और इनका लक्ष्य कैलेंडर वर्ष 2022 तक 100 एक्जिट्स और अप-राउंड को बंद करना है। वेंचर कैटलिस्ट्स ने अपनी स्थापना के समय से 200 स्टार्टअप में 301 सौदों में निवेश किया है, जो इसे भारत का अग्रणी प्रारंभिक चरण का निवेश मंच बना रहा है। वेंचर कैटलिस्ट्स एक निवेश फर्म से कहीं अधिक है और यह अपने पोर्टफोलियो को प्रदान किए जाने वाले मजबूत परामर्श कार्यक्रम और समय पर मार्गदर्शन में विश्वास करता है जिसने उन्हें उच्च मूल्यांकन पर राउंड बढ़ाने में मदद की है और स्टार्टअप को उनके विकास के चरण में सार्थक जुड़ाव के साथ मदद की है।

वेंचर कैटालिस्ट्स के समर्थन के बारे में बात करते हुए, असिडस ग्लोबल के फाउंडर एवं सीईओ सोमदत्त सिंह ने कहा, "एक अच्छा सलाहकार ढूंढना स्टार्टअप की सफलता के लिए 'छिपा हुआ तरीका' है, और 9 यूनिकॉर्न और वीकैट असिडस ग्लोबल के लिए मार्गदर्शक बल रहे हैं। हमें अपने विकास को बढ़ावा देने के लिए 9 यूनिकॉर्न से समर्थन और संसाधन मिले हैं। ठीक से सुसज्जित होने पर, हम दुनिया भर में अपने क्षेत्र में अपनी उपस्थिति स्थापित करने के लिए असिडस को आगे बढ़ाने सक्षम हैं। हम मेंटरशिप, वित्तीय संभावनाओं, संभावित वाणिज्यिक अवसरों, उद्योग नेटवर्किंग, और सभी तरह के समर्थन के लिए एक वैश्विक नेटवर्क तक पहुंच के कारण वास्तविक दुनिया में आसानी से और तेजी से आगे बढ़ने में सक्षम हैं। वेंचर कैटालिस्ट्स ने अपने नेटवर्क के माध्यम से 100 मिलियन डॉलर (लगभग 782.4 करोड़ रुपये) के शुरुआती चरण के निवेश को संचालित किया है। 67 स्टार्टअप में, 94 सौदों को क्रियान्वित किया गया, जिनमें से 27 सौदों ने आंशिक या पूर्ण निकासी दिया, जबकि शेष में अप-राउंड की स्थिति रही। 17 सौदों के अनुरूप, संपत्ति की वसूली में विफलता के कारण, या 1 गुना से कम रिटर्न दिए जाने के कारण 13 स्टार्टअप को बट्टे खाते में डाल दिया गया है।

प्री-सीड, सीड और सीरीज ए राउंड में निवेश करने औऱ इसके बाद के दौर में अपने पोर्टफोलियो के समर्थन के साथ एकीकृत इनक्यूबेटर ने महत्वपूर्ण मूल्य प्रस्तावों के साथ स्टार्टअप्स में निवेश किया है। इसके पोर्टफोलियो में शामिल कुछ सबसे बड़ी कंपनियों में भारतपे, वेदांतु, ज़िंगबस, बियर्डो, सुपर डेली, इनोव 8, होम कैपिटल, ब्लोहॉर्न, अन्य शामिल हैं। वेंचर कैटालिस्ट्स ने न केवल स्टार्टअप्स के शुरुआती चरण से ही समर्थन किया है और विकास के चरण के माध्यम से उनकी मदद की है। साथ ही इसने देश में स्टार्टअप इकोसिस्टम को भी लोकतांत्रिक बनाया है। 55 शहरों में मौजूद 3000 से अधिक एंजल निवेशकों के साथ, वेंचर कैटलिस्ट्स का देश में सबसे बड़ा नेटवर्क है, जहां इसने अपने सुनियोजित मास्टरक्लास और टेलर मेड स्टार्टअप कार्यक्रमों के माध्यम से स्टार्टअप निवेश के बारे में जागरूकता पैदा करने में मदद की है। उद्यम पूंजी उद्योग के विकास पर विचार करते हुए, डॉ शर्मा ने कहा, "भारत में स्टार्टअप के उदय ने पूरी दुनिया में उद्यमिता के लिए एक नया मानदंड स्थापित किया है। वेंचर कैटलिस्ट्स ने उच्च विकास क्षमता वाली कंपनियों का एक विविध, समग्र पोर्टफोलियो बनाने, पूंजी का लाभ उठाने, सलाह देने और एचएनआई, फैमिली ऑफिस, सीएक्सओ और अन्य के हमारे नेटवर्क बनाने के लिए उपाय किए हैं। हमारा उद्देश्य उद्यमी पारिस्थितिकी तंत्र का लोकतंत्रीकरण करना है, जिससे अधिक से अधिक निवेशक तेजी से टर्नअराउंड समय में लाभदायक रिटर्न प्राप्त करने के लिए उच्च रिटर्न असेट क्लास का पता लगा सकें। इन पहलों के उप-उत्पाद के रूप में, हमने देश में धन सृजन और रोजगार सृजन में भी योगदान दिया है।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा