गोदावरी ईमोबिलिटी भारत का पहला इलेक्ट्रिक ऑटो एल5एम थ्री-व्‍हीलर लॉन्च करेगी

◆ डीपीसीडी मटीरियल से वाहन की पूरी बॉडी

◆ दिसंबर के पहले हफ्ते में इलेक्ट्रिक थ्री-व्‍हीलर को लॉन्च करने की योजना

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 24 नवम्बर  2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, रायपुर। गोदावरी ईमोबिलिटी प्राइवेट लिमिटेड जल्द ही इलेक्ट्रिक टू-व्‍हीलर के क्षेत्र में कदम रखने की योजना बना रही है। इस वाहन की बॉडी के पूरे पैनल डीसीपीडी मटीरियल से बनाए जाएंगे। हाल ही में इस कंपनी ने डीसीपीडी मटीरियल के लिए पेटेंट भी हासिल कर लिया है।    यह मटीरियल प्रभाव प्रतिरोधक है। इसे वर्चुअली अनब्रेकेबल माना जाता है। यह मटीरियल वाहन को इतना मजबूत बना देता है, जिससे यह प्रतिकूल स्थिति में भी काम करता है। विभिन्न परीक्षण से यह साबित हो चुका है कि भारी या बार-बार पड़ने वाले प्रभाव के बाद अत्यधिक गर्म तापमान या तरह-तरह के केमिकल के संपर्क में आने के बाद यह मटीरियल असाधारण रूप से बेहतरीन प्रदर्शन करता है। 

डीसीपीडी एक जंग प्रतिरोधी मटीरियल है, जिससे यह वाहन को कार जैसी पेंट फिनिश देता है। डीसीपीडी का मुख्य लाभ वाहनों की जिंदगी को बढ़ाना है और इसकी बेहतर ढंग से फिनिशिंग कर वाहन को दुरुस्त रखना है। गोदावरी ईमोबिलिटी रायपुर में अपनी आगामी फैक्‍ट्री से दिसंबर में इलेक्ट्रिक थ्री-व्‍हीलर लॉन्च करने की योजना बना रही है। कंपनी अपने लाइनअप का भी विस्‍तार करने के लिए तत्‍पर है और इस वित्त वर्ष के अंत तक ई-साइकिल, ई-स्कूटर और ई-लोडर लॉन्च करेगी। पिछले साल कंपनी ने घोषणा की थी कि वह रायपुर में इलेक्ट्रिक वाहन बनाने की फैक्‍ट्री लगाने के लिए 150 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। कंपनी के मैन्युफैक्चरिंग प्लांट का उद्घाटन अगली तिमाही में किया जाएगा। कंपनी इलेक्ट्रिक वाहन की रिटेल बिक्री के क्षेत्र में भी प्रवेशकरने की योजना बना रही है। 

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा