डेटॉल ने मल्टी-यूज एंटीसेप्टिक क्रीम को बाजार में उतारा

शब्दवाणी समाचार, शनिवार 19 नवम्बर  2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई दिल्ली। डेटॉल ने मल्टी-यूज एंटीसेप्टिक क्रीम  को बाजार में उताराभारत के सबसे भरोसेमंद जर्म प्रोटेक्शन ब्रांड डेटॉल ने अपनी मल्टी-यूज डेटॉल एंटीसेप्टिक क्रीम के लॉन्च के साथ एक नई कैटेगरी में कदम रखा है। डेटॉल की यह एंटीसेप्टिक क्रीम विभिन्न प्रकार के मामूली घावों, कटने, खरोंचों में इन्फेक्शन को रोकती है। डेटॉल एंटीसेप्टिक क्रीम डेटॉल पोर्टफोलियो में शामिल एकमात्र प्रोडक्ट है जो पूरे भारत में दवा की दुकानों और फार्मेसियों में एक्सक्लूसिव रूप से उपलब्ध है। यह खास 'मेड इन इंडिया' प्रोडक्ट है। यह ओटीसी उत्पाद अपने आरामदायक फॉर्मूलेशन के साथ विभिन्न प्रकार के मामूली कट/घावों में संक्रमण को रोकने के लिए एक प्रभावी और प्रयोग में आसान फर्स्ट एड प्रोडक्ट है। डेटॉल एंटीसेप्टिक क्रीम का 30 मिलीग्राम का पैक डेटॉल का अब तक का पहला ओवर-द-काउंटर प्रोडक्ट है। इसकी कीमत 60 रुपये है और यह भारत में ऑनलाइन और ऑफलाइन फार्मेसियों में आसानी से उपलब्ध है। नीलसन की कंज्यूमर रिसर्च से यह पता चलता है कि केवल 56% ग्राहक किसी भी तरह के ब्रांडेड फर्स्ट एड प्रोडक्ट का उपयोग करते हैं, जबकि शेष 44% लोग घरेलू उपचार का उपयोग करते हैं।

प्रोडक्ट लॉन्च के मौके पर बात करते हुए दिलेन गांधी, रीजनल मार्केटिंग डायरेक्टर, साउथ एशिया - हेल्थ एंड न्यूट्रिशन, रेकिट ने कहा, "मार्केट लीडर के रूप में, यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम भारतीय ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने वाले उत्पादों को पेश करें। डेटॉल एंटीसेप्टिक क्रीम एक ओटीसी उत्पाद है जिसका उपयोग ग्राहक छोटे-मोटे कट और चोटों को ठीक करने के लिए करते हैं ताकि खुले घावों पर किसी भी संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। इस क्रीम के साथ हम चाहते हैं कि ग्राहक अपनी प्राथमिक चिकित्सा से जुड़ी जरूरतों को और भी बेहतर तरीके से पूरा करें। यह 'मेड इन इंडिया' प्रोडक्ट डेटॉल की प्रतिष्ठित एंटीसेप्टिक लिक्विड विरासत को साथ लिए है और उपयोग में आसान एवं सुरक्षित है।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा