एंजल वन की वृद्धि का सिलसिला जारी

 

◆ एनएसई पर सक्रिय ग्राहकों की संख्या में 47.9% की जबरदस्त वार्षिक बढ़ोतरी 

◆ 4.23 मिलियन सक्रिय ग्राहकों के साथ उद्योग में शीर्ष 3 में शामिल

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 27 दिसम्बर  2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, मुंबई। फिनटेक कंपनी एंजल वन लिमिटेड (जिसे पहले एंजल ब्रोकिंग लिमिटेड के नाम से जाना जाता था) का शानदार प्रदर्शन जारी है और यह एनएसई पर 4.23 मिलियन सक्रिय ग्राहकों के साथ तीसरा बड़ा ब्रोकर बनने में सफल रहा है। इस संख्‍या में सालाना आधार पर 47.9% की वार्षिक वृद्धि दर्जकी गई है। डिजिटल फर्स्ट कंपनी की यह शानदार तरक्‍की आक्रामक तकनीकी प्रगति के आधार पर आई है ताकि ग्राहकों को सहज अनुभव प्रदान किया जा सके। इस साल की शुरुआत में, एंजल वन ने अपने सुपर एप का रोल-आउट आरंभ किया था। शुरुआत में इसे आईओएस और वेब यूजर्स के लिए लॉन्च किया गया था। एंड्रॉएड संस्करण नवंबर 2022 में सीमित यूजर्स के लिए पेश किया गया था। सुपर एप, (S.T.A.R.S) यानी- सरलता, पारदर्शिता, उपलब्धता, विश्वसनीयता और तेजी - जैसे पांच प्रमुख स्तंभों पर निर्मित है, जिसका मकसद ग्राहकों को एक सुरक्षित, सहज और व्यक्तिगत निवेश अनुभव प्रदान करता है।

एंजल वन लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री नारायण गंगाधर ने कहा, ''हमारी नजर भविष्य पर है और हम नए-नए नवाचार लाने के मोड में हैं। मौजूदा आंकड़ें इस बात का संकेत है कि हम अपने यूजर्स को समझते हैं कि उन्हें सहज अनुभव की आवश्यकता है। हम मिलेनियल्स और जेनरेशन जेड के लिए उनकी निवेश जरूरतों को पूरा करने के लिए सबसे पसंदीदा ब्रोकर बनने के लिए विकसित हो रहे हैं। हमारा सुपर एप इसी मंशा से विकसित किया गया है। हम इस गति जारी रखने के लिए तत्पर हैं। नवंबर में, एंजल वन ने 0.32 मिलियन के सकल ग्राहक अधिग्रहण के साथ अपने ग्राहकों की संख्‍या में 66.5% की वृद्धि दर्ज की और इसके साथ कुल संख्या बढ़कर 12.19 मिलियन हो गई। फिनटेक कंपनी अपने ग्राहकों के जीवन भर की निवेश जरूरतों के लिए अपने डिजिटल-फर्स्ट दृष्टिकोण और अभूतपूर्व प्रतिबद्धता के साथ उद्योग में एक बदलाव लाने वाली कंपनी बनने का वादा करती है।

Comments

Popular posts from this blog

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

बबीता फोगट WFI के खिलाफ आरोपों की जांच के लिए गठित ओवरसाइट कमेटी पैनल में शामिल

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा