श्रीमद्भगवत कथा के दूसरे दिन अमर कथा, शुकदेव जन्म का किया वर्णन

शब्दवाणी समाचार, शनिवार 10 दिसम्बर  2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, गौतम बुध नगर।सेक्टर 93 श्रमिक कुंज प्रथम के शिव मंदिर परिसर में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा के दूसरे दिन कथा व्यास विनोद कृष्ण महाराज ने अमर कथा का रोचक वर्णन किया। भगवान शिव माता पार्वती को अमर कथा सुना रहे हैं , माता को कथा सुनते सुनते नींद आ जाती है और उनकी जगह एक तोता हुंकारी भरने लगता है। जब शिव जी को पता चला कि एक पक्षी चोरी छुपे कथा का श्रवण कर रहा है तो उन्होंने शुक को मारने के लिए त्रशूल लेकर उसके पीछे दौड़े। तीनों लोकों में भागता शूक व्यास जी के आश्रम पहुंचा और उनकी पत्नी के मुख से गर्भाशय में पहुंच गया जहां वह बारह वर्ष तक रहे। पिता व्यास जी ने प्रार्थना की बेटा बाहर आ जाओ उन्होंने कहा कि बाहर माया का जाल है इसलिए बाहर नहीं आऊंगा। 

भगवान कृष्ण के आश्वासन के बाद जन्म लिया। जन्म लेनें के बाद वह तपस्या के लिए वन चले गए। आयोजन समिति के प्रवक्ता राघवेंद्र दुबे ने बताया कि 10 दिसंबर को कथा के तीसरे दिन ध्रुव चरित्र, जड़ भरत की कथा, वामन अवतार आदि कथाओं का व्यास जी द्वारा वर्णन किया जाएगा। कथा रोजाना 3 बजे से 7 बजे तक हो रही है। आप सभी भगवत चरण अनुरागी भक्तजन कथा में पधारकर कथा रूपी अमृत का पान अवश्य करें। इस अवसर पर आयोजन समिति के प्रवक्ता राघवेंद्र दुबे, मुख्य यजमान श्यामानंद मिश्रा, पंडित महेश पाठक शास्त्री, पंडित महादेव शर्मा,रवि राघव, गोरेलाल, सुशील पाल, जितेंद्र ठाकुर, प्रमोद यादव, एनके सोलंकी, संटू मिश्रा सहित तमाम भगवत्प्रेमी भक्तजन मौजूद रहे।

Comments

Popular posts from this blog

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा

तुलसीदास जयंती पर जानें हनुमान चालीसा की रचना कैसी हुई : रविन्द्र दाधीच