मेलोरा ने मेन्‍स फैशन की दुनिया में रखा कदम: अपना मेन्‍स ज्‍वैलरी कलेक्‍शन किया·लॉन्‍च

       

◆ इस कलेक्‍शन में हीरे और सोने (14 कैरेट, 18 कैरेट और 22 कैरेट) की रिंग, ब्रेसलेट, चेन, स्‍टड ईयरिंग और पेंडेन्‍ट शामिल हैं·        

◆ डिजाइन को टेक्‍सचर्स, ज्‍यॉमेट्रिक कटाव, मिनिमल पैटर्न्‍स और मल्‍टी-टोन्‍ड क्‍लासिक स्‍टाइल्‍स के मिश्रण में हाई पॉलिश और बिना चमक वाला फिनिश दिया जाएगा 

शब्दवाणी समाचार सोमवार 16 जनवरी 2023, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई दिल्ली। भारत के सबसे तेजी से बढ़ रहे डी2सी ब्राण्‍ड्स में से एक, मेलोरा (www.melorra.com) खासकर आधुनिक और स्‍टा‍इलिश पुरूषों के लिये डिजाइन किये गये अपने नये कलेक्‍शन के साथ मेन्‍स ज्‍वैलरी कैटेगरी में प्रवेश कर अपने पोर्टफोलियो का विस्‍तार करने के लिये तैयार है। इस कलेक्‍शन में चेन, ब्रेसलेट, ईयरिंग, पेंडेन्‍ट और रिंग शामिल हैं और यह 14 कैरेट, 18 कैरेट और 22 कैरेट हीरे और सोने की रेंज में आएगा। इसके दाम 6000 रूपये से शुरू होते हैं और इसमें टेक्‍सचर्स, ज्‍यॉमेट्रिक कटाव, मिनिमल पैटर्न्‍स, मल्‍टी-टोन्‍ड (येलो और व्‍हाइट गोल्‍ड का मिक्‍स) और क्‍लासिक स्‍टाइल्‍स का मिश्रण होगा। मेलोरा का नया कलेक्‍शन मॉडर्न, बोल्‍ड और वर्सेटाइल है और पुरूषों को किफायती, अनूठे और रोजाना पहनने योग्‍य आधुनिक डिजाइनों से सजाने के लिये है। ज्‍वैलरी को पुरूषों के कपड़ों के सादे स्‍टाइल का टच देने के लिये डिजाइन किया गया है, ताकि वे ट्रेंडी और फैशनेबल लगें। 

नया कलेक्‍शन मेलोरा के 23 एक्‍सपीरियेंस सेंटर्स पर उपलब्‍ध है और 26000 से ज्‍यादा पिन कोड्स पर डिलीवर किया जा सकता है। इस लॉन्‍च के बारे में मेलोरा की फाउंडर और सीईओ सरोजा येरामिल्‍ली ने कहा, “यह नया कलेक्‍शन मेन्‍स ज्‍वैलरी सेगमेंट में हमारा विस्‍तार दिखाता है और उन कई उपलब्धियों में से एक है, जो हमने अपनी शुरूआत से अब तक प्राप्‍त की हैं। ज्‍वैलरी को आधुनिक वार्डरोब को ध्‍यान में रखकर डिजाइन किया गया है और रोजाना पहनने के लिये बिल्‍कुल आदर्श है। हम अपने पुरूष ग्राहकों को सही ज्‍वैलरी खोजने में मदद करना चाहते हैं, जोकि उनके स्‍टाइल, शख्सियत और पसंद के मुताबिक सबसे बढि़या हो।” यह ब्राण्‍ड अपने अभिनव दृष्टिकोण और आधुनिक डिजाइनों के लिये जाना जाता है और हर अवसर पर छा जाने के लिये ज्‍वैलरी चाहने वालों का बिलकुल सही विकल्‍प है। हर हफ्ते 75 डिजाइनें लॉन्‍च हो रही हैं, जिनके साथ मेलोरा हर भारतीय को अपने डिजाइनों की बड़ी रेंज तक आसानी से पहुँच दे रहा है और सुदूरतम बाजारों में भी पहुँच देने के अपने महत्‍वपूर्ण लक्ष्‍य पर काम कर रहा है। 

इस प्रकार सुनिश्चित होता है कि सुदूर क्षेत्रों में रहने वाले लोग भी ट्रेंडी बन सकें और किफायती ज्‍वैलरी को उनके दरवाजे पर डिलीवर किया जाता है। मेलोरा ने 2016 में अपना परिचालन शुरू किया था और तब से ही फाइन, ट्रेंडी और लाइटवेट गोल्‍ड ज्‍वैलरी के सेगमेंट में धूम मचा रखी है। कंपनी ने पिछले साल तेजी से तरक्‍की की थी और इसे त्‍यौहार के सीजन में भी यह वृद्धि जारी रहने की उम्‍मीद है। कोविड-19 महामारी के बाद से लोग हल्‍की-फुल्‍की और किफायती फाइन ज्‍वैलरी खरीदना पसंद करते हैं और डिजाइन पर ध्‍यान देते हैं। मेलोरा यह सब और इससे भी ज्‍यादा देती है। कंपनी ने 10000 से कम आबादी वाले गाँवों से लेकर 1 मिलियन से ज्‍यादा आबादी वाले शहरों तक अपनी छाप छोड़ी है। अभी मेलोरा का राजस्‍व 350 करोड़ रूपये है और इसका मकसद अगले 5 साल में 1 बिलियन डॉलर की कंपनी बनना है।

Comments

Popular posts from this blog

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

बबीता फोगट WFI के खिलाफ आरोपों की जांच के लिए गठित ओवरसाइट कमेटी पैनल में शामिल

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा