nurture.farm ने एसडब्लूएएल कारपोरेशन लिमिटेड के साथ किया साझेदारी

◆ अपने वेदर कवच के माध्यम से कड़ी गर्मी से फसल को होने वाले नुकसान से बचाने के लिए 

◆ साझेदारी के तहत कंपनियां किसान को फसल सुरक्षा पदार्थ और मौसम रिस्क कवर तहत वित्तीय सुरक्षा प्रदान करेगी

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 20 मार्च 2023, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, बेंगलुरु। भारत के प्रमुख कृषि-तकनीक संगठन, nurture.farm ने SWAL कारपोरेशन लिमिटेड के साथ साझेदारी करके अपने वेदर प्रोटेक्शन कवर प्रस्तावों का विस्तार किया है। यह उत्पाद प्रस्ताव nurture.farm के किसान रिजिलिएंस प्रोग्राम ‘कवच’ का हिस्सा है। वेदर कवच एक जोखिम सुरक्षा प्रस्ताव है जो मौसम की गड़बड़ियों से होने वाले नुकसान से किसानों की रक्षा करता है। यह एक लचीला कवर ऑप्शन है जहाँ किसान किसी भी बीमाधन मूल्य का चुनाव कर सकते हैं और अत्यधिक वर्षा, लू की लहर या कम वर्षा की स्थिति में दावा का वितरण किया जाएगा। मौसम कवच उत्पाद के फायदों में सूचकांक-आधारित उत्प्रेरण, वितरण में कम समय और किसान के बैंक खाते में दावा राशि का सीधा हस्तांतरण शामिल हैं। अपनी शुरुआत से ही nurture.farm 100,000 से अधिक किसानों को वेदर कवच दे चुका है और 12 महीनों से कम समय में दस लाख से ज़्यादा वेदर कवच दे  चुका है।

nurture.farm के बीमा कार्यक्षेत्र के प्रधान विवेक लालन ने कहा कि, “वैश्विक स्तर पर 2022 इतिहास में पाँचवाँ सबसे गर्म साल था। रिपोर्टों के मुताबिक़, वैज्ञानिकों ने सावधान किया है कि 2023 में अल नीनो की वापसी हो सकती है जिसके कारण तापमान में एक शताब्दी पहले के औसत तामपान की तुलना में 1.5 डिग्री सेंटीग्रेड तक की वृद्धि होगी। यूनाइटेड स्टेट्स की विज्ञान पत्रिका, ‘प्रोसीडिंग्स ऑफ़ द नैशनल अकैडमी ऑफ़ साइंसेज’ (पीएनएएस) यानी राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी की कार्यवाहियाँ में प्रकाशित रिपोर्टों के अनुसार वैश्विक तापमान में हर एक डिग्री सेंटीग्रेड की बढ़ोतरी के चलते गेहूँ की औसत वैश्विक पैदावार में 6%, चावल में 3.2%, मक्के में 7.4% और सोयाबीन की पैदावार में 3.1% तक की कमी हो सकती है। इसके अलावा, तामपान में वैश्विक वृद्धि होने से बाढ़, सूखा, प्रचंड गर्मी की लहर, पानी की किल्लत का ख़तरा बढ़ जाता है और लाखों लोगों के गरीब हो जाने की स्थिति पैदा हो सकती है। खतरे की जानकारी होने, और हर साल खेती में नुकसान उठाने के बावजूद, भरोसे और शिक्षा की कमी, तथा ऊँची प्रीमियम के कारण 20% से भी कम किसान ही जोखिम-सुरक्षा उत्पाद लेते हैं। 

nurture.farm ने SWAL कारपोरेशन लिमिटेड के साथ साझेदारी करने का फैसला किया है। एसडब्लूएएल कारपोरेशन लिमिटेड के साथ की गयी यह साझेदारी हमें बदलाव को तेज करने, किसानो को रिस्क कवर सुरक्षा पहुँचाने और दूसरे संगठनों के लिए एक नया रास्ता तैयार करने में काम आएगी | यह साझेदारी किसानों की दृढ़ता बढ़ाएगी और खेती को सचमुच सस्टेनेबल एवं जलवायु-सक्षम बनाने में मदद करेगी। इस साझेदारी के माध्यम से, SWAL कारपोरेशन लिमिटेड अपने सभी किसानों को, जो वुक्साल (Wuxal)और डेल्मा (Delma) उत्पाद की खरीद पर, किसी अतिरिक्त लागत के बगैर मौसम कवच मुहैया कराएगी। जहाँ वुक्साल फसल को पोषण देता है, वहीं डेल्मा फसलों को विभिन्न रोगों से बचाता है, जो फसलों के विकास के महत्वपूर्ण चरण में तामपान में उतार-चढ़ाव के कारण फ़ैल सकते हैं। फरवरी और मार्च में उच्चतर तामपान की संभावना, और रबी फसलों की कटाई का समय नजदीक होने के साथ, इस साझेदारी के लिए इससे बढ़िया समय नहीं हो सकता था। मौसम कवच का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को nurture.farm (nurture.farm) ऐप डाउनलोड करके, ऐप पर वुक्साल और डेल्मा उत्पादों को स्कैन करना चाहिए, फिर वे बिना किसी अतिरिक्त खर्च के इसका लाभ उठा सकते हैं।

एसडब्लूएएल कारपोरेशन लिमिटेड के हेड ऑफ़ मार्केटिंग श्री प्रमोद तिवारी ने कहा कि, “10 दशकों से अधिक समय से एसडब्लूएएल किसानो के प्रति वचनबद्ध है। एसडब्लूएएल कारपोरेशन लिमिटेड किसानों को खेती के उत्तम समाधान उपलब्ध करता है, जो खेती के सहारे बेहतर लाभ सुनिश्चित करने के लिए कार्यकुशल हैं और पैदावार की गुणवत्ता एवं मात्रा बढ़ाते हैं।  हमारी विभिन्न टीम किसानों के साथ काम करते रही हैं और उन्हें सही इनपुट चुनने में मदद करने, तकनीकी जानकारी देने, नवाचारी कृषि पद्धतियों के बारे में शिक्षित करने तथा फसल के पूरे चक्र में टेक्नोलॉजी और परामर्शी सेवा देने का काम कर रही हैं। अपने उसी मूलभूत सिद्धांत के अनुसरण में हम पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में वुक्साल या डेल्मा खरीदने वाले प्रत्येक किसान को बगैर किसी अतिरिक्त लागत के मौसम-आधारित जोखिम सुरक्षा समाधान उपलब्ध कराने के लिए nurture.farm के साथ साझेदारी कर रहे हैं। एसडब्लूएअल किसानों की लाभकारिता में सुधार, एनपीपी (नैचरल प्लांट प्रोटेक्शन) समाधानों सहित असली और उच्च कोटि के इनपुट्स को अपनाने में तेजी, और जमीनी स्तर पर कृषि शिक्षा के लिए लगातार सक्रिय रहेगा। हमारा लक्ष्य देश भर में  अपने विभिन्न पहलों के माध्यम से 10 लाख से अधिक किसानो को मौसम कवच की सुरक्षा प्राप्त करने का रहेगा। 

Comments

Popular posts from this blog

सिंधी काउंसिल ऑफ इंडिया, दिल्ली एनसीआर रीजन ने किया लेडीज विंग की घोसणा

बबीता फोगट WFI के खिलाफ आरोपों की जांच के लिए गठित ओवरसाइट कमेटी पैनल में शामिल

हार्टफुलनेस योग महोत्सव नोएडा में आयोजित