डॉ. बत्रा ने वैशाली, गाज़ियाबाद में अत्‍याधुनिक सौंदर्य उपचारों के लिए खोला क्लिनिक

◆ डॉ. बत्रा’ज़® की यूएस-एफडीए से अनुमोदित उपचारों की ‘न्‍यू यू’ रेंज में सक्रिय होम्‍योपैथिक सामग्रियों और यूरोप में बने सीरम्‍स की अच्‍छाई है 

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 18 मई 2023, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, गाज़ियाबाद। आपकी त्‍वचा की सेहत आपका आत्‍मविश्‍वास और आत्‍म-सम्‍मान तय करती है। हर किसी को बेदाग़ और जवान त्‍वचा चाहिये, जैसे कि हम विज्ञापनों में देखते हैं। दुर्भाग्‍य से, आम लोगों में से 12% से ज्‍यादा लोगों को त्‍वचा की समस्‍याएं हैं, जैसे कि मुंहासे, हाइपरपिगमेंटेशन, आदि। कई लोगों को एक्‍ज़ीमा और सोरायसिस जैसी त्‍वचा की गंभीर बीमारियाँ भी हैं। फ्यूचर मार्केट इनसाइट्स के अनुसार, 2023 से 2033 तक एंटी-एजिंग सर्विसेस की मांग 5.5% की सीएजीआर से बढ़ने की उम्‍मीद है। त्‍वचा की समस्‍याओं के कई कारण होते हैं। इसमें कि हवा की गुणवत्‍ता, पानी की गुणवत्‍ता, पर्यावरणीय कारक, तनाव, स्‍वास्‍थ्‍य के मौजूदा रोग, आदि शामिल हैं। यह आपकी त्‍वचा को फीका और बेजान बना सकते हैं। अब आप सोच रहे होंगे कि इसका हल क्‍या है? चिंता मत कीजिये, डॉ. बत्रा’ज़® के ट्रीटमेंट्स की न्‍यू यू रेंज से आप अपने सपनों की स्किन प्राप्‍त कर सकते हैं!

डॉ. बत्रा’ज़® ने वैशाली, गाजि़याबाद में एडवांस लेजर ट्रीटमेंट पेश किया है। तकनीकी उन्‍नति के साथ, लेजर ट्रीटमेंट का यह उपकरण यूएस-एफडीए से अनुमोदित गोल्‍ड-स्‍टैण्‍डर्ड की एक मशीन है, जोकि आइस-कूलिंग टेक्‍नोलॉजी से सुसज्जित है। यह हर प्रकार के बालों और त्‍वचा के लिये उपयुक्‍त है और प्रशिक्षित थेरैपिस्‍ट एक डॉक्‍टर की निगरानी में इससे काम लेते हैं। बाल निकालना अब आसान ही नहीं, बल्कि दर्द और चीर-फाड़ के बिना तथा प्रभावी है और एक ही सेशन में दिखने योग्‍य परिणाम मिलते हैं। सैलून के दर्द देने वाले रेगुलर सेशंस से बचिये और आज ही डॉ. बत्रा’ज़® एडवांस्‍ड लेजर ट्रीटमेंट्स की अच्‍छाई को आजमाइये।

डॉ. बत्रा’ज़® के ट्रीटमेंट्स की न्‍यू यू  रेंज में दुनिया का पहला होम्‍योपैथिक हाइड्राफेशियल ट्रीटमेंट भी शामिल है, जो नई कोरियन टेक्‍नोलॉजी और यूरोप में बने सीरम्‍स से लैस है और आपकी त्‍वचा को सिर्फ 45 मिनट में नरिश, हाइड्रेट और तरोताजा कर देता है। डॉ. बत्रा’ज़® का हाइड्राफेशियल ट्रीटमेंट प्राकृतिक सामग्रियों, जैसे कि गिंको, बिलोबा और कैवियर के अर्क से उम्र बढ़ने के शुरूआती संकेतों, पिगमेंटेशन, मुंहासों के दाग, मुंहासे और त्‍वचा की जलन का इलाज करता है और त्‍वचा को चमकदार, दमकता हुआ बनाकर उसे कसावट प्रदान करता है। यह एक ही सेशन में तुरंत परिणाम देता है और सुरक्षित है तथा इसके दुष्‍प्रभाव नहीं होते हैं। अगर आप त्‍वचा की समस्‍याओं से लंबे समय की राहत चाहते हैं और डॉ. बत्रा’ज़® हाइड्राफेशियल आपकी त्‍वचा की देखभाल से जुड़ी सभी जरूरतों के लिये सही विकल्‍प है।

डॉ. बत्रा’ज® के ट्रीटमेंट्स की न्‍यू यू रेंज पर अपनी बात रखते हुए, डॉ. बत्रा’ज़® हेल्‍थकेयर में मेडिकल एस्‍थेटिक्‍स की हेड डॉ. वैशाली कामत ने कहा, “डॉ. बत्रा’ज़® में हमने हमेशा अपने मरीजों की जरूरतों को अपने हर काम के केन्‍द्र में रखा है। हम अपने मरीजों के लिये सुरक्षित, बिना चीर-फाड़ वाला और प्रभावी उपचार सुनिश्चित करना चाहते थे। इसलिये त्‍वचा विशेषज्ञों और विशेषज्ञ होम्‍योपैथ्‍स की हमारी टीम ने सावधानी से किये गये वैज्ञानिक विश्‍लेषण के बाद उपचारों की न्‍यू यू  रेंज पेश की है, जिसमें अपने तरह का पहला हाइड्राफेशियल शामिल हैं, जोकि होम्‍योपैथी के सक्रिय सामग्रियों और एडवांस लेजर ट्रीटमेंट्स के साथ आता है। यह उपचार लंबे समय के परिणाम देते हैं और सुरक्षित हैं। इस प्रकार मरीजों को प्राथमिकता देने के हमारे वादे को दोहराते हैं।

डॉ. बत्रा’ज़ वैशाली, गाज़ियाबाद क्लिनिक में न्‍यू यू  ट्रीटमेंट्स के लॉन्‍च पर अपनी बात रखते हुए, श्री सुनील कुमार शर्मा (विधायक) ने कहा, “होम्‍योपैथी उपचार का सबसे सुरक्षित तरीका है और मुझे उपचारों की न्‍यू यू रेंज के लॉन्‍च का हिस्‍सा बनने की खुशी है। लोगों का इलाज करना मानवसेवा है और डॉ. बत्रा’ज़® वैशाली, गाज़ियाबाद में सर्वश्रेष्‍ठ स्‍वास्‍थ्‍यरक्षा प्रदान करने वाला एक मशहूर ब्राण्‍ड है। यह क्लिनिक शॉप नंबर 253, दूसरी मंजिल, महागुन मेट्रो मॉल प्‍लॉट नंबर वीसी3, सेक्‍टर 3, वैशाली, गाज़ियाबाद, उत्‍तर प्रदेश 201010 में स्थित है। डॉ. बत्रा’ज़® लेजर और हाइड्राफेशियल सर्विसेज़ पर 50% की सीधी छूट और निशुल्‍क परामर्श की पेशकश कर रहा है। यह ऑफर सात दिनों के लिये है।

Comments

Popular posts from this blog

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

झूठ बोलकर न्यायालय को गुमराह करने के मामले में रिपब्लिक चैनल के एंकर सैयद सोहेल के विरुद्ध याचिका दायर

22 वें ऑल इंडिया होम्योपैथिक कांग्रेस का हुआ आयोजन