मेडट्रॉनिक और फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट ने अचानक कार्डियक अरेस्ट पर जागरूकता अभियान के लिए रीसेट द बीट का किया अनावरण

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 6 जुलाई 2023, नई दिल्ली। मेडट्रॉनिक पीएलसी (एनवाईएसई: एमडीटी) और फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी इंडिया मेडट्रॉनिक प्राइवेट लिमिटेड ने आज एक राष्ट्रव्यापी अभियान 'रीसेट द बीटÓ लॉन्च किया, जिसका उद्देश्य अचानक कार्डियक अरेस्ट और कार्डियोपल्मोनरी रिससिटेशन के बारे में जागरूकता बढ़ाना है।  नई दिल्ली में फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट में लॉन्च किया गया यह अभियान अंतत: भारत भर के अन्य प्रमुख अस्पतालों के सहयोग से तेज किया जाएगा। तीन महीने के पहले चरण में, दिल्ली और चेन्नई के अस्पतालों, रेलवे स्टेशनों, पुलिस विभाग, सार्वजनिक बाजारों, स्कूलों, कॉलेजों आदि में 36 सीपीआर कार्यशालाओं के माध्यम से 1500 से अधिक लोगों को प्रशिक्षित किया जाएगा।

डॉ. अशोक सेठ, अध्यक्ष, फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट, नई दिल्ली और फोर्टिस हेल्थकेयर मेडिकल काउंसिल,  माइकल ब्लैकवेल, उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, मेडट्रॉनिक इंडिया सहित प्रतिष्ठित नेता; डॉ. अनिल सक्सेना, कार्यकारी निदेशक, कार्डिएक पेसिंग और इलेक्ट्रोफिजियोलॉजी, फोर्टिस एस्कॉर्ट्स अस्पताल; डॉ. अपर्णा जसवाल, निदेशक, कार्डियक इलेक्ट्रोफिजियोलॉजी, फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट; श्री गोविन्द शर्मा, अतिरिक्त पुलिस आयुक्त यातायात दक्षिणी रेंज ने अपनी उपस्थिति से लॉन्च कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई।

अभियान के बारे में बोलते हुए, मेडट्रॉनिक इंडिया के उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, श्रीमाइकल ब्लैकवेल ने कहा कि एससीए के बारे में जागरूकता की कमी भारत में हृदय रोगों और मृत्यु दर के खतरनाक बोझ में योगदान देने वाला एक महत्वपूर्ण कारक है। सीपीआर शिक्षा पर जोर देकर, हम 'रीसेट द बीटÓ के माध्यम से हजारों लोगों की जान बचाने की क्षमता रखते हैं। सीपीआर प्रशिक्षण को सीधे हमारे समुदायों के दिल में लाने के अभिनव दृष्टिकोण और दर्द को कम करने, स्वास्थ्य बहाल करने और जीवन का विस्तार करने के मेडट्रॉनिक के मिशन के माध्यम से बदलाव लाने के लिए उत्सुक हैं।

फोर्टिस एस्कॉर्ट्स अस्पताल के कार्डिएक पेसिंग और इलेक्ट्रोफिजियोलॉजी के कार्यकारी निदेशक डॉ. अनिल सक्सेना ने आगे कहा कि प्रभावशाली रीसेट द बीट अभियान के लिए मेडट्रॉनिक के साथ सहयोग करके हमें खुशी हो रही है। फोर्टिस में, हम अचानक कार्डियक अरेस्ट (एससीए) के बारे में जागरूकता बढ़ाने और जीवन बचाने में तत्काल प्रतिक्रिया के महत्व को समझते हैं। साथ मिलकर, हम जीवित रहने की दर बढ़ाने और अनगिनत जिंदगियां बचाने के लिए अथक प्रयास करेंगे। यह सहयोग हृदय स्वास्थ्य में सुधार लाने और यह सुनिश्चित करने के लिए हमारे अटूट समर्पण का उदाहरण देता है कि समुदायों के पास गंभीर परिस्थितियों में तेजी से और आत्मविश्वास से कार्य करने के लिए आवश्यक ज्ञान और उपकरण हों।

फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट में कार्डिएक इलेक्ट्रोफिजियोलॉजी की निदेशक डॉ. अपर्णा जसवाल ने कहा, एससीए भारत में चिंता का एक गंभीर कारण और सार्वजनिक स्वास्थ्य का मुद्दा है, खासकर इसलिए क्योंकि इसके लक्षणों और जोखिम कारकों के बारे में जागरूकता कम है। लोगों को एससीए से प्रशिक्षित करना जरूरी है।

फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट के जोनल डायरेक्टर, श्री बिदेश चंद्र पॉल ने कहा  कि मैं मेडट्रॉनिक द्वारा शुरू किए गए 'रीसेट द बीट' अभियान की तहे दिल से सराहना करता हूं। यह महत्वपूर्ण पहल न केवल अचानक कार्डियक अरेस्ट के बारे में जागरूकता बढ़ाएगी बल्कि हमारे समुदायों को जीवन रक्षक सीपीआर कौशल के साथ सशक्त भी बनाएगी। मैं सभी को कार्यशालाओं में सक्रिय रूप से भाग लेने और ऑनलाइन संसाधनों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करता हूं, क्योंकि साथ मिलकर हम जीवित रहने की दर में सुधार लाने और सभी के लिए सुरक्षित भविष्य सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण अंतर ला सकते हैं।

रीसेट द बीट अभियान दर्शकों और चिकित्सा कर्मचारियों के लिए शारीरिक प्रशिक्षण सत्रों से परे फैला हुआ है और इसमें संसाधनों के समृद्ध वर्गीकरण की मेजबानी करने वाला एक इंटरैक्टिव ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म शामिल है। इनमें विस्तृत प्रशिक्षण मॉड्यूल, ज्ञानवर्धक वीडियो और व्यावहारिक मार्गदर्शिकाएँ शामिल हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सिंधी काउंसिल ऑफ इंडिया, दिल्ली एनसीआर रीजन ने किया लेडीज विंग की घोसणा

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

झूठ बोलकर न्यायालय को गुमराह करने के मामले में रिपब्लिक चैनल के एंकर सैयद सोहेल के विरुद्ध याचिका दायर