सरस कवि-सम्मेलन का हुआ आयोजन

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 24 अगस्त 2023, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई दिल्ली। नई दिल्ली की प्रतिष्ठित संस्था, पिछले 52 वर्ष से प्रकाशित साहित्यिक पत्रिका, मित्र संगम पत्रिका  की ओर से लिटल फैयरी सीनियर सेकन्डेरी स्कूल, हडसन लाइन, किंगसवे कैम्प, दिल्ली में सरस कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसका उद्घाटन स्कूल के चेयरमैन श्री आर एस खुराना ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ, ओजस्वी कवयित्री रीता जयहिंद ने किया। सर्वप्रथम स्कूल के  चेयरमैन श्री आर एस खुराना और वरिष्ठ कवि, लेखक, मुख्य अतिथि प्रोफेसर कुलदीप सलिल का फूलमाला तथा शाल आदि पहना कर सार्वजनिक अभिनंदन किया गया। पूर्व स्पेशल मेट्रोपॉलिटन मैजिस्ट्रैट, कवि, निबंधकार श्री ओम सपरा ने कोरोना संकट के दौर की एक आशावादी दृष्टिकोण से सराबोर एक कविता का पाठ किया और हरभजन सिंह देओल ने पंजाबी और हिन्दी की लोकगीत के शैली में सुरीले गीत प्रस्तुत किए। सर्वप्रथम  मित्र संगम काव्य मंच, नॉर्थ दिल्ली की अध्यक्ष, कवयित्री रीता जयहिन्द ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की तथा अपनी एक ओजस्वी कविता का काव्य पाठ किया। सिरायकी मुल्तानी भाषा के वरिष्ठ गायक श्री राजकुमार चाँद ने मुल्तानी भाषा में कुछ मनोरम गीत प्रस्तुत किए और मुल्तान शहर की मीठी मिट्टी की सौंधी महक से माहौल को एक बात खुशगवार कर दिया। सारस्वत अतिथि, वरिष्ठ हृदय चिकित्सक, पुरस्कृत नृत्यांगना और कवयित्री, डॉ नीलम वर्मा ने अपनी कविताएं, गीत और हायकू प्रस्तुत किये और वाहवाही लूटी। विशिष्ट अतिथि अनिल आर्य, राष्ट्रीय अध्यक्ष, केंद्रीय आर्य युवक परिषद ने राष्ट्ररक्षा हेतु कुछ महत्वपूर्ण सूत्र प्रस्तुत किए और ‘राष्ट्रप्रेम’ को सबसे बड़ा धर्म बतलाया।

 आपने कुछ क्रांतिकारी शेर भी प्रस्तुत किए, जो काफी पसंद किए गए। वरिष्ठ कवि, शायर श्री दिलदार देहलवी ने भी उर्दू की मिठास और नजाकत से भरपूर कुछ शेर और गजलें प्रस्तुत की और वातावरण को खुशनुमा बना दिया। इस अवसर पर वरिष्ठ वयोवृद्ध 86 वर्षीय कवि राजेन्द्र नटखट, वयोवृद्ध 90 वर्षीय कवयित्री प्रतिभा रोहतगी का भी अभिनंदन किया गया और दोनों कविगण ने अपनी काव्य रचनाएं प्रस्तुत की। इस अवसर पर श्री राजेन्द्र नटखट की नई पुस्तक “नटखट की दिव्य-दृष्टि” का विमोचन किया गया और आपने अपनी यह पुस्तक भेंट की। तीन होनहार  छोटे बच्चों नम्या नारंग, दिवंशी, इशविन सिंह ने “ओ देश मेरे- तेरी जान के सदके“ नामक देशभक्ति का गीत अपने नृत्य सहित प्रस्तुत किया और सराहना प्राप्त की। इन तीनों बच्चों को तीन ‘वाल-क्लाक’ इनाम में देकर पुरुसकृत किया गया। इसके अतिरिक्त सर्वश्री आमोद कुमार अग्रवाल, राष्ट्रीय अध्यक्ष, मित्र संगम काव्य मंच, प्रोफेसर चंद्रभानु आर्य, पूर्व डिप्टी डायरेक्टर इंकम टैक्स श्री ब्रह्म शर्मा ब्रह्म अन्य कविगण ने कार्यक्रम में भाग लिया। कार्यकम का सफल संचालन श्री ओम सपरा, महासचिव एवं हरभजन सिंह देओल, संपादक मित्र संगम पत्रिका ने किया।  

Comments

Popular posts from this blog

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

झूठ बोलकर न्यायालय को गुमराह करने के मामले में रिपब्लिक चैनल के एंकर सैयद सोहेल के विरुद्ध याचिका दायर

22 वें ऑल इंडिया होम्योपैथिक कांग्रेस का हुआ आयोजन