श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव हर्षोल्लास से संपन्न

शब्दवाणी समाचार, रविवार 10 सितम्बर 2023, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, गाजियाबाद। आर्य समाज अवंतिका योग यज्ञ कार्यशाला के तत्वाधान में श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव अवंतिका डबल टंकी वाला पार्क में किया गया। सुप्रसिद्ध भजनोपदेशक पंडित मोहित शास्त्री एवं नरेश चन्द्र द्वारा मनमोहक भजनों की प्रस्तुति के साथ साथ भगवान कृष्ण के चरित्र को विस्तार से समझाया एवं बताया गया भगवान कृष्ण का आहार सात्विक दही दूध मक्खन था अंडे या मांस नहीं था।उन्होंने बताया आज के समय में विधर्मियों द्वारा हो रहे लव जिहाद,बलात धर्मांतरण के समय में श्रीकृष्ण जैसे महापुरुष की दुराचारियो का नाश करने के लिए और शांति धर्म की स्थापना के लिए महत्ती आवश्यकता है।

मुख्य वक्ता के रूप में दिल्ली से पधारे वैदिक विद्वान आचार्य वीरेन्द्र विक्रम जी ने अपने उद्बोधन में कहा कि भारतीय इतिहास में कोई दूसरा व्यक्ति इतना महान नही हुआ जिसे योगेश्वर पुकारा जाता हो। श्री कृष्ण के जन्म के समय भारत खण्ड-खण्ड में विभक्त था।'गृहे गृहे ही राजानं: स्वस्य स्वस्य प्रियं करा:' अर्थात घर घर राजा हैं और अपने ही हित में लगे हुए हैं।सम्पूर्ण राष्ट्र को एक सूत्र में बाँधने वाला कोई ना था।कंस,जरासन्ध, शिशुपाल,दुर्योधन आदि जैसे दुराचारी व विलासियों का वर्चस्व बढ़ रहा था।राज्य के दैवीय सिद्धान्त से भीष्म जैसे योद्धा तक बंधे हुए थे।ऐसी घोर अन्धकार पूर्ण रात्रि में श्री कृष्ण का जन्म हुआ।अपने अद्भुत चातुर्य एवं कौशल से श्रीकृष्ण ने इन राजाओं का विनाश करवाकर युधिष्ठिर को चक्रवर्ती सम्राट बनवाया।इसके अतिरिक्त भी उन्होंने महाभारत के कई प्रेरणादाई कथानक सुनाए।

आर्य समाज अवंतिका की संरक्षिका डॉ प्रतिभा सिंघल ने बताया कि नंद बाबा के लाख गाय थीं।वे माखन चोर नहीं थे।श्रीकृष्ण जी पर लगाया हुआ यह लांछन हटाना चाहिए किसी भी हिंदू को श्रीकृष्ण जी को माखन चोर नहीं कहना चाहिए।श्याम चूड़ी बेचने आया जैसे गीत नहीं गाने चाहिए।श्री कृष्ण जी के साथ राधा कृष्ण न कहकर रुक्मणी कृष्ण कहना चाहिए। सभा का संचालन समाज के प्रधान वेद प्रकाश तोमर द्वारा किया गया एवं उपस्थित माता और बहनों से निवेदन किया की अपने बच्चों को खासकर बेटियों पर विशेष ध्यान दें थोड़ा समय निकाल कर उनकी स्थिति को समझे वर्तमान समय में विधर्मियों द्वारा बच्चों को पथभ्रष्ट किया जा रहा है।

अंत में मुख्य अतिथि वार्ड 56 के पार्षद मनोज त्यागी द्वारा सभी को धन्यवाद एवं कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई दी गई सभी माता और बहनों से निवेदन किया कृष्ण के वास्तविक स्वरूप को समझें। इस अवसर पर कार्यक्रम में सहयोग के लिए एसपी सिंह, देवेंद्र तोमर, सुरेंद्र सिंह, सुरेंद्र पाल सिंह, बीपी सिंह, संजीव आर्य, राजीव बिश्नोई, हरि प्रकाश, अवंतिका रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष हृदेश कंसल जी भोपाल सिंह सभी को हृदय से धन्यवाद दिया गया। इस अवसर पर मुख्य रूप से सर्वश्री मनोज त्यागी,आशा आर्या,प्रमोद शास्त्री,सत्य पाल आर्य एवं संजीव कुमार आदि मौजूद रहे।

Comments

Popular posts from this blog

सिंधी काउंसिल ऑफ इंडिया, दिल्ली एनसीआर रीजन ने किया लेडीज विंग की घोसणा

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

झूठ बोलकर न्यायालय को गुमराह करने के मामले में रिपब्लिक चैनल के एंकर सैयद सोहेल के विरुद्ध याचिका दायर