देवयानी जयपुरिया स्पोर्ट्स अकादमी ने गुड़गांव में स्पोर्ट्स अकादमी किया लॉन्च

देवयानी जयपुरिया स्पोर्ट्स अकादमी ने शिखर धवन की डा वन स्पोर्ट्स के साथ मिलकर

जमीनी स्तर से ही असाधारण स्पोर्ट्स डेवलपमेंट को बढ़ाने के लिए

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 11 अक्टूबर 2023, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई गुडगाँव। डीपीएस इंटरनेशनल में देवयानी जयपुरिया स्पोर्ट्स अकादमी के सहयोग से 'डा वन स्पोर्ट्स' अकादमी का अनावरण किया। इस पहल का मकसद जमीनी स्तर पर असाधारण प्रशिक्षण विकसित कर, छात्रों तथा प्रशिक्षकों के लिए सीखने के प्रचुर अवसर प्रदान करना है। यह अकादमी एक सुरक्षित और सहायक वातावरण स्थापित करने के लिए समर्पित हैं जो बच्चों को बाहरी गतिविधियों में सक्रिय रूप से भाग लेने के लिए प्रेरित करती रहती है। अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए, यह स्पोर्ट्स एसोसिएशन स्पोर्ट्स एजुकेशन के लिए एक समग्र दृष्टिकोण सुनिश्चित करते हुए उनके व्यक्तिगत प्रदर्शन की निगरानी करने के साथ साथ, उनकी प्रोग्रेस को ट्रैक करने और स्किल डेवलपमेंट को भी उन्नत करेगा।

भारत के अग्रणी शैक्षिक नेटवर्कों में से एक से संबद्ध देवयानी जयपुरिया स्पोर्ट्स अकादमी बच्चों को ज्ञान और अंतर्दृष्टि के माध्यम से सकारात्मक वैश्विक प्रभाव देकर उन्हें भावी लीडर्स के रूप में उभरने में सक्षम बनाती है। इनका अग्रणी शैक्षिक दृष्टिकोण पाठ्यक्रम के साथ - साथ रचनात्मकता को भी बढ़ाता है, साथ ही छात्रों को इनोवेशंस अपनाने और अज्ञात क्षेत्रों में वेंचर के लिए भी प्रेरित करता है। अकादमी में मौजूद शिक्षक पारंपरिक शिक्षण भूमिकाओं से परे हैं; वे एक ऐसी मार्गदर्शक हैं, जो मेंटरशिप प्रोग्राम्स के माध्यम से संस्थान के दृष्टिकोण को डायनामिक एवं कक्षा को आकर्षक अनुभवों में तब्दील करने के लिए पूर्णतः  सुसज्जित हैं।

कार्यक्रम में बोलते हुए, शिखर धवन ने कहा, "डीजेएसए और डा वन स्पोर्ट्स अकादमी उभरते एथलीटों को प्रशिक्षित करने तथा उन्हें उत्कृष्ट अवसर प्रदान करने के एक साझा मिशन के साथ एक साथ आ रहे हैं। मैं इस साझेदारी और हमारे छात्रों को शीर्ष स्तर ट्रेनिंग देने के अवसर का बड़ी ही उत्सुकता से इंतजार कर रहा हूं। अच्छी गुणवत्ता वाली ट्रेनिंग को सुनिश्चित करने के लिए हम सम्पूर्ण भारत से सर्वश्रेष्ठ प्रशिक्षकों अर्थात कोचेज़ का  चयन कर रहे हैं। मुझे लगता है कि क्रिकेट ने मुझे बहुत कुछ दिया है और जिसे मैं अब जीवित रखने में अपना योगदान देना चाहता हूं साथ ही अपनी एक अहम् भूमिका भी निभाना चाहता हूं।

इस सहयोग के संदर्भ में, धारव हाई स्कूल की चेयरपर्सन और डीपीएस इंटरनेशनल गुरुग्राम की प्रो-वाइस चेयरपर्सन मिस देवयानी जयपुरिया ने कहा,"हमारा दृढ़ विश्वास है कि प्रत्येक एथलीट उत्कृष्टता और महानता को प्राप्त करने की अपनी एक अलग क्षमता रखता है। इसलिए हमारा मिशन स्पोर्ट्स ट्रेनिंग के लिए एक समग्र दृष्टिकोण प्रदान करना है, जिसमें न केवल तकनीकी कौशल बल्कि करैक्टर डेवलपमेंट, स्पोर्टमैनशिप तथा लीडरशिप क्वालिटीज़  पर भी ध्यान केंद्रित किया गया है।

स्कूल डायरेक्टर मिस अदिति मिश्रा ने भी इस अवसर पर अपना उत्साह व्यक्त करते हुए कहा कि यह साझेदारी बच्चों के लिए एक वरदान साबित होगी। इस सहयोग माध्यम से डीपीएस इंटरनेशनल और डीपीएस गुड़गांव के छात्रों को काफी लाभ होगा।

डीपीएस इंटरनेशनल की स्कूल प्रमुख मिस रीमा सिंह ने इसके समग्र विकास के महत्व पर जोर देते हुए खेल के प्रति अपना आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि, "खेलों के प्रति मेरा व्यक्तिगत प्रेम है। समग्र विकास को बढ़ावा देने में यह बहुत महत्व रखता है, क्योंकि मैदान पर बिताया गया समय  हम सभी को जीवन को लेकर अमूल्य सबक प्रदान करता है।

प्रोग्राम  मेथोडोलॉजी अर्थात कार्यक्रम पद्धति- जिसमे शामिल है मौज-मस्ती से भरा समग्र लर्निंग एनवायरनमेंट, आयु-उपयुक्त उपकरणों का उपयोग, ट्रेन्ड  प्रशिक्षक, प्रतिस्पर्धा का अनुभव, प्रौद्योगिकी-आधारित शिक्षण, स्किल एवं फिटनेस का मूल्यांकन।

इम्पैक्टफुल लर्निंग अर्थात प्रभावशाली शिक्षण- हर एक सेशन में प्रत्येक एथलीट को लर्निग एनवायरनमेंट के माहौल में शामिल करना ही हमारी सफलता के मंत्र की कुंजी है। इसके अलावा हमारा यह भी मानना ​​है कि ट्रेनिंग, खासकर फिटनेस सेशन और मेंटल ट्रेनिंग सेशन में प्रत्येक एथलीट पर व्यापक प्रभाव डालते हैं। 

सेशन पर्पज अर्थात सत्र का उद्देश्य - चाहे ट्रेनिंग सेशन हो या फिटनेस, टीम के साथ छोटे समूहों में काम करना भी महत्वपूर्ण होता है ताकि प्रत्येक व्यक्ति को अपने ख़ास क्षेत्रों को पहचानने और उनमे सुधार कर बेहतर गेम प्लान बनाने में मदद मिल सके। हमारे ट्रेनिंग सेशन प्रत्येक ड्रिल, प्रत्येक खेल के साथ साथ और भी बहुत कुछ के उद्देश्य को परिभाषित करेंगे।डीजेएसए और डा वन स्पोर्ट्स का लक्ष्य प्रत्येक व्यक्तिगत एथलीट में टीम के हित में योगदान देने के लिए अपनेपन की भावना को पैदा करना है।

Comments

Popular posts from this blog

सिंधी काउंसिल ऑफ इंडिया, दिल्ली एनसीआर रीजन ने किया लेडीज विंग की घोसणा

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

झूठ बोलकर न्यायालय को गुमराह करने के मामले में रिपब्लिक चैनल के एंकर सैयद सोहेल के विरुद्ध याचिका दायर