बिजनेस प्रतियोगिता इनक्यूब के तीसरे संस्करण का सफलतापूर्वक समापन

◆ इनक्‍यूब 2023 में 225 से ज्‍यादा शहरों के 360 से अधिक संस्‍थानों से 7500 से ज्‍यादा छात्रों ने लिया हिस्‍सा 

◆ शिव नादर विश्‍वविद्यालय, दिल्‍ली-एनसीआर की टीम बहुआयामी  प्रतियोगिता में विजेता बनकर उभरी, एलएनएम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंफोर्मेशन टेक्‍नोलॉजी, जयपुर की टीम रही रनरअप 

◆ विजेताओं को मिला 5 लाख रुपए तक का नकद पुरस्‍कार 

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 17 अक्टूबर 2023, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, ग्रेटर नोएडा। भारत के सबसे युवा इंस्टीट्यूशन ऑफ एमिनेंस (आईओई) शिव नादर विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मैनेजमेंट एंड एंत्रप्रेन्‍योरशिप में 15 अक्टूबर को राष्ट्रीय स्तर की बिजनेस प्रतियोगिता इनक्यूब के तीसरे संस्करण का सफलतापूर्वक समापन किया गया। शिव नादर विश्‍वविद्यालय, दिल्‍ली एनसीआर की टीम बहुआयामी प्रतियोगिता में विजेता रही, इसके बाद एलएनएम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंफोर्मेशन टेक्‍नोलॉजी, जयपुर की टीम उपविजेता रही। तीन दिवसीय (13 से 15 अक्‍टूबर, 2023) इस कार्यक्रम की थीम 'स्थिरता और नवाचार' थी और विजेताओं ने 5 लाख रुपए तक के नकद पुरस्‍कार जीते। इनक्‍यूब 2023 में श्री श्रीकांत शास्‍त्री, सह-संस्‍थापक और बोर्ड सदस्‍य, क्रेयॉन डाटा और अध्‍यक्ष, 13जी एडवाइजरी नेटवर्क सम्‍मानित मुख्‍य अतिथि के रूप में और श्री नारायण रामास्‍वामी, पार्टनर एंड नेशनल लीड, शिक्षा और कौशल विकास क्षेत्र, केपीएमजी इंडिया विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थे।   

भारत में स्नातक स्तर की युवा प्रतिभाओं की तलाश करने, उनके लिए चुनौती पेश करने, उन्हें एकजुट करने और उन्हें पुरस्कृत करने के लिए एक बहुआयामी प्रतियोगिता, इनक्यूब 2023 में देशभर के 225 से ज्‍यादा शहरों के 360 से अधिक प्रतिष्ठित संस्‍थानों के प्रभावशाली समूह से 7500 से अधिक छात्रों की उत्‍साही भागीदारी देखी गई। यहां शामिल होने वाले प्रमुख संस्थानों में आईआईटी बॉम्बे; आईआईटी मद्रास; एनआईटी जालंधर; क्राइस्ट यूनिवर्सिटी, बेंगलुरु; पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज, चंडीगढ़ आदि जैसे प्रतिष्ठित संस्थान थे।

डा. बिबेक बनर्जी, डीन, स्‍कूल ऑफ मैनेजमेंट एंड एंत्रप्रेन्‍योरशिप (एसएमई), शिव नादर विश्‍वविद्यालय, और इनक्‍यूब के निर्माता, ने कहा, “स्‍कूल ऑफ मैनेजमेंट एंड एंत्रप्रेन्‍योरशिप, शिव नादर विश्‍वविद्यालय का केंद्रीय लक्ष्‍य उद्यमशीलता है और इनक्‍यूब के साथ, हम ईकोसिस्‍टम में इस भावना का बीजारोपण करना चाहते हैं। इनक्‍यूब के इस साल के संस्‍करण ने एक बार फिर यह साबित कर दिया है कि इन्‍नोवेशन और स्‍थायी व्‍यावसायिक प्रैक्टिस को बढ़ावा देने में हमारे युवाओं की महत्‍वपूर्ण भागीदारी है।

श्री नारायणन रामास्वामी, पार्टनर एंड नेशनल लीड, शिक्षा और कौशल विकास क्षेत्र, केपीएमजी इंडिया ने कहा, "इनक्यूब 2023 ने हमारे देश के युवा, नवोन्वेषी प्रतिभाओं को सस्टेनेबल बिजनेस प्रैक्टिस और इनोवेशन के क्षेत्र में अपने कौशल का अपना प्रदर्शन करने के लिए एक मंच प्रदान किया है । सकारात्मक बदलाव लाने में इन छात्रों के समर्पण और बुद्धिमत्ता को देखकर मैं काफी प्रभावित हुआ हूं। केपीएमजी इंडिया इस बेहतरीन आयोजन का हिस्सा बनकर बहुत खुश है और इस अनूठे मंच को जीवंत बनाने में शिव नादर विश्‍वविद्यालय के स्‍कूल ऑफ मैनेजमेंट एंड एंत्रप्रेन्‍योरशिप (एसएमई) द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना करता है और इस अनूठे मंच को जीवंत बनाने में शिव नादर विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मैनेजमेंट एंड एंटरप्रेन्योरशिप (एसएमई) द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना करते हैं। विजेता, नमित अरजारिया और पार्थ झुनझुनवाला, शिव नादर विश्‍वविद्यालय, दिल्‍ली-एनसीआर ने अपने विचार साझा करते हुए कहा, “इनक्यूब प्रतियोगिता का हिस्सा बनकर हम रोमांचित थे। हमने व्यक्तिगत रूप से नए तरीकों का अनुभव किया है, जिसमें शिव नादर विश्‍वविद्यालय के स्कूल ऑफ मैनेजमेंट एंड एंत्रप्रेनेयोरशिप में नवाचार और सह-निर्माण के लिए शिक्षा जगत और उद्योग एक-दूसरे का सहयोग करते हैं। इनक्यूब से हमें जो मिला है उसका लाभ उठाने के लिए हम तहेदिल से दूसरों को भी इस अवसर का लाभ उठाने और इसमें भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करेंगे।

Comments

Popular posts from this blog

सिंधी काउंसिल ऑफ इंडिया, दिल्ली एनसीआर रीजन ने किया लेडीज विंग की घोसणा

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

झूठ बोलकर न्यायालय को गुमराह करने के मामले में रिपब्लिक चैनल के एंकर सैयद सोहेल के विरुद्ध याचिका दायर