गोदरेज एंड बॉयस ने 2032 तक अच्‍छे और हरित उत्‍पादों से 50 प्रतिशत राजस्‍व हासिल करने के रखा लक्ष्‍य

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 29 नवंबर 2023, संपादकीय व्हाट्सएप 08803818844 मुंबई। गोदरेज समूह की प्रमुख कंपनी गोदरेज एंड बॉयस ने आज 2032 के लिए अपने परिवर्तनकारी टिकाऊ लक्ष्‍यों की घोषणा की। एक ऐसे दृष्टिकोण के साथ, जहां लाभप्रदता सहजता से संरक्षण के साथ मिलती है, कंपनी का लक्ष्‍य सभी भारतीयों के लिए जिम्‍मेदार विकल्‍पों को अपनाना है। कंपनी ने अगले एक दशक में अपने कुल राजस्‍व का 50 प्रतिशत हिस्‍सा अच्‍छे और हरित उत्‍पाद पोर्टफोलियो से हासिल करने का महत्‍वाकांक्षी लक्ष्‍य निर्धारित किया है।

जमशेद एन गोदरेज, चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्‍टर, गोदरेज एंड बॉयस, ने स्‍थायी रूप से मौजूद बेजोड़ आर्थिक अवसरों के बारे में बताया। उन्‍होंने कहा, “हमारा लक्ष्‍य केवल विकास करना नहीं है, बल्कि सभी स्‍तरों पर सार्थक सहयोग के माध्‍यम से हमारे ग्रह के साथ तालमेल में स्‍थायी प्रगति हासिल करना है। पिछले एक दशक में, हमने अपनी सतत यात्रा में कुछ महत्‍वपूर्ण उपलब्धियां हासिल की हैं और आने वाले दशक के लिए और उपलब्धियां हासिल करने का प्रण लिया है। एक संपूर्ण हरित आपूर्ति श्रृंखला की दिशा में आगे बढ़ते हुए, रोजगार बढ़ाने के लिए अपने कौशल कार्यक्रमों को बेहतर बनाने से लेकर अपने राजस्‍व का कम से कम 50 प्रतिशत हिस्‍सा अच्‍छे और हरित उत्‍पादों से प्राप्‍त करने तक, हम अपने टिकाऊ लक्ष्‍यों को आगे बढ़ा रहे हैं, जो जलवायु संरक्षण और सामाजिक विकास के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाते हैं।

गोदरेज एंड बॉयस ने कठोर पर्यावरण और सामाजिक मानदंडों पर जोर देते हुए अच्‍छे और हरित उत्‍पादों के लिए अपने मानदंड को और मजबूत किया है। हरित उत्‍पाद संसाधन दक्षता, कम कार्बन उत्‍सर्जन, रिसाइ‍कलिंग और जहरीले पदार्थों से सुरक्षा के साथ टिकाऊ सामग्री के उपयोग का समर्थन करते 

कंपनी अपने अच्‍छे और हरित आचरण अपनाने का एक दशक पूरा होने का जश्‍न मना रही है। इस दशक की महत्‍वपूर्ण उपलब्धियों में कुल राजस्‍व में अच्‍छे और हरित उत्‍पादों की हिस्‍सेदारी एक तिहाई होना, 600 से अधिक हरित इमारतों का निर्माण, ऊर्जा उत्‍पादकता को दोगुना करना और 180,000 से अधिक युवाओं को व्‍यावसायिक कौशल प्रशिक्षण प्रदान करना शामिल है। गोदरेज एंड बॉयस की अधिकांश फैक्‍ट्रियों ने सीआईआई-ग्रीनको प्रमाणपत्र हासिल किया है, जिसमें से 7** ने प्रतिष्ठित 'प्‍लेटिनम' दर्जा प्राप्‍त किया है, जो डिजाइन प्रोसेस और परिचालन गतिविधियों में संगठन की टिकाऊपन को प्राथमिकता देने वाली सोच का प्रदर्शन करती है।

अगले दशक के लिए स्थिरता लक्ष्‍य संभावनाओं को पुन: परिभाषित करने के लिए निर्धारित किए गए हैं, जिसमें अच्‍छे और हरित उत्‍पादों के माध्‍यम से 50 प्रतिशत राजस्‍व अर्जित करना, ऊर्जा उत्‍पादकता में 60 प्रतिशत की वृद्धि, कार्बन उत्‍सर्जन में 60 प्रतिशत की कमी, 40 प्रतिशत अक्षय ऊर्जा का इस्‍तेमाल, 100 प्रतिशत नेट-जीरो इमारतें, और हरित आपूर्तिकर्ताओं से 80 प्रतिशत घरेलू खरीद शामिल है।

Comments

Popular posts from this blog

सिंधी काउंसिल ऑफ इंडिया, दिल्ली एनसीआर रीजन ने किया लेडीज विंग की घोसणा

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

झूठ बोलकर न्यायालय को गुमराह करने के मामले में रिपब्लिक चैनल के एंकर सैयद सोहेल के विरुद्ध याचिका दायर