नहीं रहे देश के मशहूर पहलवान सज्जन सिंह

शब्दवाणी समाचार, शनिवार 18 नवंबर 2023, संपादकीय व्हाट्सएप 08803818844 नई दिल्ली। अपने जमाने में बेमिसाल पहलवानी की मिसाल रहे चरखी दादरी जिले के गांव समसपुर निवासी 90 वर्षीय पहलवान सज्जन सिंह नहीं रहे । आज उनका निधन हो गया है । उनके निधन पर अर्जुन अवार्डी कुश्ती कोच कृपाशंकर बिश्नोई ने गहरा दुख प्रकट किया और कहा की सज्जन सिंह पहलवान  गुरु स्वर्गीय पद्मश्री मास्टर चंदगीराम जी के साथ के समय के पहलवान थे उन्होंने काफी समय चंदगीराम जी के साथ बिताया । वे लोग साथ में पहलवानी करते थे । उन्हें अभी हाल ही में पिछले वर्ष 13 नवंबर को ध्यान चंद लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया था। नई दिल्ली स्थित राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा सज्जन सिंह को यह अवार्ड दिया गया था। पहलवान सज्जन सिंह वर्ष 1960 में रोम ओलिंपिक सहित विभिन्न अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में देश का प्रतिनिधित्व कर कई पदक जीत चुके थे। पहलवान व सेवानिवृत कोच सज्जन सिंह को राष्ट्रपति द्वारा ध्यान चंद लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड दिए जाने पर देश की कुश्ती के साथ ही उनके परिवार में काफी खुशी का माहौल उत्पन्न हुआ था।

गौरतलब है कि दादरी के गांव समसपुर निवासी 90 वर्षीय स्वर्गीय पहलवान सज्जन सिंह ने भारतीय सेना में रहते हुए वर्ष 1960 में रोम ओलिंपिक में भाग लिया था। इसके साथ ही वे करीब एक दशक तक एशियन गेम्स, कामनवेल्थ गेम्स, वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में भी भाग ले चुके हैं। इन प्रतियोगिताओं में उन्होंने देश का प्रतिनिधित्व करते हुए कई पदक जीते थे।

Comments

Popular posts from this blog

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

झूठ बोलकर न्यायालय को गुमराह करने के मामले में रिपब्लिक चैनल के एंकर सैयद सोहेल के विरुद्ध याचिका दायर

22 वें ऑल इंडिया होम्योपैथिक कांग्रेस का हुआ आयोजन