वीर ही वसुंधरा के सुख को भोगते हैं : ठाकुर विक्रम सिंह

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 20 नवंबर 2023, संपादकीय व्हाट्सएप 08803818844 गाजियाबाद। रविवार,19-11-2023 को आर्य समाज कविनगर का 47 वाँ त्रिदिवसीय वार्षिकोत्सव धूमधाम से सम्पन्न हुआ। सहारनपुर से पधारे आचार्य शिव कुमार शास्त्री के ब्रहामत्व में महायज्ञ संपन्न हुआ।मुख्य यज्ञमान सर्वश्री नरेश गोयल व श्रीमती अंजना गोयल,प्रेमपाल शर्मा व मिथलेश शर्मा,सुमित चावला व गोरिका चावला,विक्रम चावला एवं शिखा चावला रहे।यज्ञोप्रांत आचार्य जी ने यज्ञमानों को आशीर्वाद दिया और सुखद जीवन की प्रभु से प्रार्थना की। मुजफ्फर नगर से पधारे आर्य जगत के सुप्रसिद्ध भजनोपदेशक भूपेन्द्र आर्य एवं उमेश आर्य ने ईश्वर भक्ति के सुन्दर भजनों और दयानंद गुणगान से श्रद्धालुओं को मंत्रमुग्ध कर दिया।

मुख्य अतिथि आर्य नेता ठाकुर विक्रम सिंह ने आर्यों को एक जुट होने का आह्वान करते हुए कहा कि वीर ही वसुंधरा के सुख को भोगते हैं अतः यज्ञ योग करो देसी गाय का दूध पियो गौशाला खोलो गाय की रक्षा करो वीर बनो।उन्होंने आगे कहा कि  जाति आधारित जनगणना समाज व राष्ट्र हित में उचित नहीं है यह विकास और एकता के लिए बाधक है।हम सब भारतीय हैं हमे समाज को बांटने नही अपितु जोड़ने का कार्य करना है।

यज्ञ के ब्रह्मा एवं मुख्य वक्ता आचार्य शिव कुमार शास्त्री ने वैदिक शिक्षा एवं वर्तमान शिक्षा विषय पर विस्तृत चर्चा करते हुए बताया कि हमारी प्राचीन गुरुकुलीय शिक्षा बहुत उच्च कोटि की थी लेकिन महाभारत काल में इसमें गिरावट आई।राज कुमारों को गुरुकुलों में ना भेजकर गुरुओं को राज महल में बुलाकर शिक्षा दी जाने लगी जिससे प्रजा के बच्चों में हीन भावना पैदा हुई।जबकि गुरुकुलों में अमीर गरीब सबके लिए समान शिक्षा की व्यवस्था थी।जिसमें पंच महायज्ञ, माता पिता का सम्मान,राष्ट्र भक्ति, जितेंद्रियता आदि गुण आ जाएं वास्तव में वह शिक्षा है,वर्तमान शिक्षा में यह बात नहीं है,आज गिरावट आई है।पंच महा यज्ञों की जान कारी वैदिक शिक्षा में है जिसे अपनाकर चहुं ओर सुखों से पुरीत हो सकते हैं।

इस अवसर पर मुख्य रूप से आर्य केन्द्रीय सभा के प्रधान सत्यवीर चौधरी,महामंत्री नरेन्द्र पांचाल एवं सर्वश्री श्रद्धा नन्द शर्मा,योगी प्रवीण आर्य,यज्ञ वीर चौहान,ममता चौहान,डा प्रमोद सक्सेना,हरवीर सिंह,सत्य पॉल आर्य,आशा रानी आर्य,नरेश चन्द्र आर्य, रोहताश सोलंकी,बाल मुकंद विश्वकर्मा,सुमन चौहान, बृजपाल गुप्ता, विजय मित्तल, संतोष कुमार सिंह,रणधीर सिंह,सुरेश प्रसाद एवं प्रमोद शास्त्री आदि उपस्थित रहे। मंच का कुशल संचालन मंत्री आलोक राघव ने किया। समाज के प्रधान वीके धामा ने धन्यवाद ज्ञापित किया। शांतिपाठ एवं ऋषि लंगर के साथ कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।

Comments

Popular posts from this blog

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

22 वें ऑल इंडिया होम्योपैथिक कांग्रेस का हुआ आयोजन

सेंट पीटर्स कॉन्वेंट विद्यालय ने अपना वार्षिकोत्सव मनाया