कोर्सेरा ने भारतीय छात्रों के लिए नया एआई फीचर kiyaa लॉन्च

◆  कोर्सेरा ने 4,000 पाठ्यक्रमों का हिन्‍दी में किया अनुवाद 

◆  नए छात्रों की वृद्धि और पाठ्यक्रम पंजीकरण में भारत सर्वोच्च स्थान पर है

◆  एग्‍जीक्‍यूटिव और फाउंडेशनल साक्षरता को बेहतर बनाने के लिए जनरेटिव एआई अकादमी का अनावरण 

शब्दवाणी समाचार, शनिवार 13 जनवरी 2024, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई दिल्ली।  अग्रणी ऑनलाइन शिक्षण प्‍लेटफॉर्म, कोर्सेरा इंक (NYSE: COUR) ने भारत में उच्‍च गुणवत्‍ता वाली शिक्षा तक पहुंच में सुधार और देश में छात्रों और संस्थानों की स्थानीय जरूरतों को बेहतर ढंग से पूरा करने के लिए कई नई पहलों की घोषणा की है। इन पहलों में ऑनलाइन पढ़ाई को अधिक व्‍यक्तिगत और इंटरैक्टिव बनाने के लिए शिक्षण सामग्री की एक बड़ी श्रृंखला को हिन्‍दी में और एआई संचालित फीचर के साथ पेश करना शामिल है। अब, शीर्ष पाठ्यक्रम जैसे डीपलर्निंग.एआई की ओर से जनरेटिव एआई फॉर एवरीवन, याले यूनिवर्सिटी से द साइंस ऑफ वेल-बीईंग  यूनिवर्सिटी ऑफ मिशीगन से  प्रोग्राम फॉर एवरीबडी और आईबीएम से व्‍हाट इज डेटा साइंस? जो अभी तक केवल अंग्रेजी में उपलब्‍ध हैं, हिन्दी बोलने वाले किसी भी व्‍यक्ति के लिए सुलभ होने जा रहे हैं। 

कोर्सेरा ने नए एंटरप्राइज और कैम्‍पस ग्राहकों की भी घोषणा की है क्‍योंकि देशभर के संस्‍थान अपने कर्मचारियों और छात्रों को डिजिटल कौशल से लैस करने के लिए ऑनलाइन शिक्षण को अपना रहे हैं। प्‍लेटफॉर्म पर 2.34 करोड़ से ज्‍यादा छात्रों और 5.7 करोड़ पंजीकरण के साथ, भारत वैश्विक स्‍तर पर कोर्सेरा के लिए दूसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता आधार है। कोर्सेरा के सीईओ जेफ मैगीऑनकाल्‍डा का कहना है, "भारत की 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्‍यवस्‍था बनने की महत्‍वाकांक्षा कुशल कार्यबल विकसित करने और अपने जनसांख्यिकीय लाभांश को अधिकतम करने की क्षमता पर निर्भर करेगा" उन्‍होंने आगे कहा "हमारा लक्ष्‍य सभी के लिए उच्‍च गुणवत्‍ता वाली शिक्षा उपलब्‍ध कराना है, चाहे वो कोई भी भाषा बोलते हों, और आज इस लक्ष्‍य की दिशा में हमनें एक बड़ा कदम उठाया है। हमनें 4,000 से ज्‍यादा पाठ्यक्रमों को हिन्‍दी में अनुवाद करने के लिए एआई का इस्‍तेमाल किया है, जो भारत में छात्रों को डिजिटल भविष्‍य के लिए कौशल विकसित करने हेतु अभूतपूर्व पहुंच और अवसर देगा।

भारत में कोर्सेरा द्वारा शुरू की जाने वाली नई पहल और फीचर्स : 

हिन्‍दी अनुवाद: भारत में सबसे लोकप्रिय कुछ पाठ्यक्रमों सहित 4,000 से ज्‍यादा पाठ्यक्रम अब हिन्दी में उपलब्‍ध हैं, जैसे डीपलर्निंग.एआई और स्‍टैनफोर्ड से सुपरवाइज्ड मशीन लर्निंग: रिग्रेशन एंड क्लासिफिकेशन, याले से फाइनेंशियल मार्केट्स और  डीप टीचिंग सॉल्‍यूशंस से सीखना कैसे सीखें आदि। छात्र कोर्स रीडिंग, लेक्‍चर वीडियो सबटाइटल्‍स, क्विज, असेसमेंट, पिअर रिव्‍यू निर्देश और डिसकशन संकेतों को अब अपनी स्‍थानीय भाषा में पढ़ सकेंगे। भारत के शीर्ष शिक्षण संस्‍थानों के 40 से ज्‍यादा पाठ्यक्रमों जैसे बिट्स पिलानी के इंट्रोडक्‍शन टू प्रोग्रामिंग, आईआईएम अहमदाबाद के  लीडरशिप स्किल  और इंडियन स्‍कूल ऑफ बिजनेस के  ट्रेडिंग बेसिक्‍स  को भी फ्रेंच, स्‍पेनिश, जर्मन और थाई सहित 18 भाषाओं में अनुवादित किया जाएगा, जिससे भारत को  शिक्षा का एक वैश्विक केंद्र बनने का लक्ष्‍य हासिल करने में मदद मिलेगी। 

जेनएआई एकेडमी लॉन्‍च: इसे स्‍टैनफोर्ड ऑनलाइन, वेंडरबिल्‍ट, डीपलर्निंग.एआई, गूगल क्लाउड, और एडब्‍ल्‍यूएस सहित सर्वश्रेष्ठ यूनिवर्सिटीज और कंपनियों द्वारा विकसित फाउंडेशनल साक्षरता और एग्‍जीक्‍यूटिव एजुकेशन प्रोग्राम को पेश करने के लिए डिजाइन किया गया है। लार्सन एंड टुब्रो भारत में पहला उद्यम है, जिसने अपने संपूर्ण कार्यबल को स्‍ट्रक्‍चर्ड डिजिटल साक्षरता प्रदान करने के लिए कोर्सेरा के जेनएआई एकेडमी की सेवाएं ली हैं।    

कोर्सेरा कोच (बीटा)  कोर्सेरा प्‍लस सब्‍सक्राइर्ब्‍स के लिए :  यह एक जेनएआई-संचालित वर्चुअल लर्निंग असिस्टेंट है जो व्यक्तिगत प्रतिक्रिया प्रदान करता है, प्रश्नों का उत्तर देता है, और वीडियो लेक्‍चर और संसाधनों को सारांशित करता है। कोच स्थानीय भाषा में बातचीत के माध्‍यम से छात्रों की मदद करेगा। 

कोर्सेरा कोर्स बिल्‍डर: मानव लेखकों के संकेतों के आधार पर, एआई-संचालित कोर्स-बिल्डिंग टूल कोर्स स्‍ट्रक्‍चर, डिसक्रिप्‍शन, रीडिंग्‍स, असाइनमेंट्स और शब्‍दावली सहित पाठ्य सामग्री को ऑटो-जनरेट करेगा। कंपनियां और कैम्‍पस प्राइवेट ऑथरिंग के लिए भी इस फीचर का उपयोग कर सकते हैं, खुद के पाठ्यक्रम बनाने के लिए अपने आंतरिक विशेषज्ञों का उपयोग कर सकते हैं और उन्‍हें कोर्सेरा पर भागीदारों की अनुशंसित सामग्री के साथ मिश्रित कर सकते हैं। 

नई और विस्‍तारित भागीदारी :  

45 कोर्सेरा फॉर बिज़नेस ग्राहक जैसे आदित्‍य बिड़ला ग्रुप, टाटा पावर, केपीआईटी टेक्नोलॉजीज लिमिटेड और बजाज फ‍िनसर्व, जिससे देश में कुल एंटरप्राइज ग्राहकों की संख्‍या बढ़कर 140 हो गई है।  

o 55 कोर्सेरा फॉर कैंपस ग्राहक जैसे एक्‍सएलआरआई जमेशदपुर, सोमैया विद्याविहार यूनिवर्सिटी, एलायंस यूनिवर्सिटी और एनेपॉय यूनिवर्सिटी, जिससे देश में उच्‍च शिक्षण संस्‍थानों की कुल संख्‍या बढ़कर 1,100 हो गई। 

भारतीय संस्‍थानों के लिए नए प्रोग्राम :  

स्‍पेशलाइजेशन-  एडवांस्‍ड डिजिटल ट्रांसफोर्मेशन  - आईआईएम अहमदाबाद 

डिग्री - मास्‍टर ऑफ साइंस इन इंफोर्मेशन टेक्‍नोलॉजी  - आईआईआईटी हैदराबाद 

राघव गुप्‍ता, मैनेजिंग डायरेक्‍टर, इंडिया और एपीएसी, कोर्सेरा ने कहा, "जेनरेटिव एआई जैसी उभरती टेक्‍नोलॉजी हमारे सीखने, सिखाने और काम करने के तरीके को बदल रही हैं। डिजिटल जॉब्‍स और रिमोट वर्क में वृद्धि के साथ, हम ग्रामीण-शहरी अंतर को पाटने और एक समावेशी कार्यबल बनाने के लिए कई सामग्री और एआई नवाचारों के साथ भारतीय छात्रों और संस्थानों को सशक्त बनाने के लिए उत्साहित हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सिंधी काउंसिल ऑफ इंडिया, दिल्ली एनसीआर रीजन ने किया लेडीज विंग की घोसणा

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

झूठ बोलकर न्यायालय को गुमराह करने के मामले में रिपब्लिक चैनल के एंकर सैयद सोहेल के विरुद्ध याचिका दायर