SATTE 2024 का हुआ आयोजन, दिखी खरीदारों और प्रदर्शकों की रिकॉर्ड भागीदारी

शब्दवाणी समाचार, रविवार 25 फरवरी 2024, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, गौतमबुद्ध नगर। इन्‍फॉर्मा मार्केट्स इन इंडिया (आईएमआई) द्वारा आयोजित दक्षिण एशिया का प्रमुख ट्रैवल शो SATTE 2024, इंडिया एक्सपो मार्ट, ग्रेटर नोएडा, दिल्ली एनसीआर में शुरू हो गया है। यह तीन दिवसीय कार्यक्रम 22 से 24 फरवरी 2024 तक आयोजित किया जा रहा है और यह 'समावेशी और सतत पर्यटन' की थीम पर अधारित है जो इसके 31वें संस्करण को वैश्विक पर्यटन उद्योग में एक महत्वपूर्ण मील के पत्थर के रूप में स्थापित करेगा। आयोजन के तीसरे दिन, SATTE अवार्ड्स का आयोजन किया गया जो राष्ट्रीय और राज्य पर्यटन बोर्डों (एनटीओ और एसटीओ) के साथ-साथ यात्रा, पर्यटन और आतिथ्य उद्योग के स्टेक होल्डरो को मान्यता देने के लिए एक अनूठी पहल है। दिग्गज खिलाड़ियों से लेकर नवोदित स्टार्ट-अप तक, इंडस्ट्री के प्रोफेशनल लुभावने नवीन उत्पाद और समाधान प्रदान करने का प्रयास करते हैं। ऐसी पहलों को पहचानने और पुरस्कृत करने की आवश्यकता है जो बाजार के विकास को आगे बढ़ाएंगे और अतुल्य भारत के दृष्टिकोण में योगदान देंगे। पुरस्कारों के एक भाग में 'शक्ति - ऑनरिंग वीमेन अचीवर्स' शामिल था जो इस सेक्टर में महिला उद्यमियों, कारोबारियों और कॉर्पोरेट पेशेवरों के अमूल्य योगदान को मान्यता देने के लिए SATTE की प्रतिबद्धता को रेखांकित करता है।  

अपने सभी कामों के जरिए SATTE इंडस्ट्री को आगे बढ़ाने के लिए सर्वोत्तम मंच प्रदान करता है। इस सेक्टर के अवसरों पर बोलते हुए, इन्‍फॉर्मा मार्केट्स-इंडिया के प्रबंध निदेशक, श्री योगेश मुद्रास ने कहा भारत की 7.9% की मजबूत जीडीपी और वित्त वर्ष 2024 में ₹2.12 लाख की रिकॉर्ड प्रति व्यक्ति आय के आलोक में देश बड़े पैमाने पर पर्यटन सेक्टर के विस्तार के लिए तैयार है। पिछले साल आने वाले पर्यटकों की संख्या 9 मिलियन तक पहुंचने और इस साल 12 मिलियन के महत्वाकांक्षी लक्ष्य के साथ पर्यटन क्षेत्र को बेहतर परिणाम मिलने का अनुमान है। देश धार्मिक पर्यटन में बढ़त के साथ इस सेक्टर की सालाना ग्रोथ 16 फीसदी से ज्यादा रहने की उम्मीद है। अनुमान है कि 2028 तक इस सेक्टर का रेवेन्यू 59 बिलियन हो सकता है। साथ 2030 तक इस सेक्टर में 140 मिलियन अस्थायी और स्थायी नौकरियां पैदा होने संभावना है।

उन्होंने आगे कहा कि 2024 के अंतरिम बजट में, सरकार ने यात्रा के समय को कम करने, यात्री अनुभव को बेहतर करने और पर्यटन विकास में तेजी लाने में मदद करने के लिए वंदे भारत ट्रेनों के बेड़े के विस्तार की पहल की है। सरकार बेहतर परिवहन के लिए सड़कें विकसित करने की दिशा में भी काम कर रही है। उन्होंने कहा “2028 तक, अंतर्राष्ट्रीय पर्यटक आगमन 30.5 बिलियन तक पहुंचने और 59 बिलियन अमेरिकी डॉलर से अधिक का राजस्व उत्पन्न होने की उम्मीद है। महामारी के बाद घरेलू पर्यटकों से विकास को भी बढ़ावा मिलने की उम्मीद है। पर्यटन मंत्रालय के अनुसार, अक्टूबर 2023 में विदेशी पर्यटक आगमन (एफटीए) 8,11,411 था।

श्री योगेश मुद्रास ने यह कहते हुए अपनी बात खत्म की कि “जनवरी-अक्टूबर 2023 की अवधि के दौरान एफटीए 72,43,680 थे, जबकि जनवरी-अक्टूबर 2022 में 46,55,160 थे। 100 से अधिक देशों ने बढ़ती वैश्विक प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करते हुए सस्टेनेबल पर्यटन नीतियों को अपनाया है। ग्लोबल सस्टेनेबल टूरिज्म काउंसिल (जीएसटीसी) 2,500 गंतव्यों और व्यवसायों को प्रमाणित करते हुए उद्योग मानक निर्धारित करता है”। आज सऊदी अरब में स्थापना दिवस पर, श्री अलहसन अली अलदाबाग, अध्यक्ष - एशिया प्रशांत, सऊदी पर्यटन प्राधिकरण, ने अपना सम्मान व्यक्त करते हुए सभा को संबोधित किया। उन्होंने SATTE के उद्घाटन दिवस के लिए अपना उत्साह व्यक्त किया। सऊदी अरब के स्थापना दिवस के दिन ही SATTE के उद्घाटन दिवस है इसलिए उन्होंने खास उत्साह व्यक्त किया।  उन्होंने भारतीय पर्यटन बाजार के साथ संबंधों को मजबूत करने में SATTE 2024 की महत्वपूर्ण भूमिका पर प्रकाश डाला। उन्होंने जोर देकर कहा, “हमारे 2030 के दृष्टिकोण के अनुरूप, हमारा लक्ष्य सऊदी अरब में 7.5 मिलियन से अधिक भारतीय यात्रियों को आकर्षित करना है, इसे हमारे प्रमुख स्रोत बाजार के रूप में स्थापित करना है। इसे हासिल करने के लिए, हमने भारतीय यात्रियों के लिए वीज़ा आवेदन, परमिट, होटल आवास और उड़ान बुकिंग सहित यात्रा के विभिन्न पहलुओं को सुव्यवस्थित किया है।

Comments

Popular posts from this blog

सिंधी काउंसिल ऑफ इंडिया, दिल्ली एनसीआर रीजन ने किया लेडीज विंग की घोसणा

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

झूठ बोलकर न्यायालय को गुमराह करने के मामले में रिपब्लिक चैनल के एंकर सैयद सोहेल के विरुद्ध याचिका दायर